बाबा नीब करोरी स्मृति कुटीर बनाया घर
July 24, 2019 • अरुण सिंह

बाबा नीब करोरी स्मृति कुटीर बनाया घर

              गुरुदेव का आशीर्वाद पाकर आईएएस बने अलीगंज लखनऊ निवासी अरुण सिंह ने तो अपने घर का नाम ही बाबा नीब करोरी स्मृति कुटीर रख दिया। हमेशा प्रसन्नचित रहने वाले अरुण सिंह बाबा जी के संस्मरण सुनाते हुए बताते हैं कि वह बी.टेक के बाद इंजीनियर बनना चाहते थे। लेकिन बाबा जी ने पिता जी से कहा कि इस लड़के को प्रशासनिक सेवा की तैयारी कराओ यह आईएएस बनेगा। बाबा का आशीर्वाद व पिता जी की बात मानकर प्रशासनिक सेवा की तैयारी की और सफल हो गया। 
              उन्होंने बताया कि जीवनभर गुरुदेव की कृपा रही। आज भी बाबा जी की कृपा से ही सब काम ठीक ठाक चल रहा. बाबा जी के बारे में बातचीत के दौरान उन्होंने बताया कि कई बार ऐसा लगा जैसे बाबा जी कोई कार्य न करने के लिए सचेत कर रहे हैं। नौकरी में ज़ब भी मैं किंकर्तव्यविमूढ़ होता था तब आँखें बंद कर  गुरुदेव को याद करता और बाबा रास्ता बता देते थे. बाबा जी सशरीर भले ही दुनिया में न हों लेकिन भक्तों को उनकी उपस्थिति का एहसास होता रहता है। 

................................

अरुण सिंह

लखनऊ