सच्चे भविष्यवक्ता थे गुरुदेव महाराज
July 24, 2019 • के.सी. केसरवानी

सच्चे भविष्यवक्ता थे गुरुदेव महाराज

           गुरुदेव के भक्त व अवकाशप्राप्त आबकारी आयुक्त के.सी. केसरवानी बताते हैं कि वर्ष  1960-61 में ज़ब वह एलएलबी की पढ़ाई कर रहे थे तभी हुसैनगंज निवासी डाकू बाबा के साथ अमर मेहरोत्रा के घर पर पहली बार बाबा जी से मिलने का सौभाग्य मिला। फिर तो ज़ब पता चल जाता कि बाबा जी लखनऊ आये हैं साईकिल लेकर निकल पड़ते। 
           जहां भी बाबा मिल जाते आनंद आ जाता. एक बार महानगर में पी सी पाण्डेय के आवास पर बाबा जी आये थे। मैं भी ढूढ़ते ढूंढ़ते पहुंच गया। बाबा जी ने मुझे देखते ही बोल पड़े देखो एक्साइज इंस्पेक्टर आ गया। मैं हतप्रभ रह गया क्योकि पढ़ाई के साथ कम्पटीशन की तैयारी कर रहा था। बाद में यूपी लोक सेवा आयोग की जगहें निकलीं। मैंने भी परीक्षा दी। पास होकर एक्साइज इंस्पेक्टर बन गया. केसरवानी जी ने बताया कि सदर में मेरा तीन मंजिल का पुराना मकान था। एक बार बाबा जी मेरे घर आ गये। पुराने से मकान को नीचे से ऊपर तक कुछ देर देखते रहे। बोले कुछ नहीं. लेकिन उनकी ऐसी कृपा हुई कि पास में ही शहर की पाश कालोनी माल ऐवन्यू में बड़ा सा प्लाट व मकान बन गया। 

.........................

के.सी. केसरवानी

लखनऊ